भाववाचक संज्ञा - हिन्दी व्याकरण , भाववाचक संज्ञा का बनना , परिभाषा, भेद, उदाहरण

 भाववाचक संज्ञा - हिन्दी व्याकरण , भाववाचक संज्ञा का बनना ,परिभाषा,  भेद, उदाहरण


भाववाचक संज्ञा का बनना/ निर्माण/ रचना


भाववाचक संज्ञा - हिन्दी व्याकरण , भाववाचक संज्ञा का बनना , परिभाषा,  भेद, उदाहरण


प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता प्राप्त करने के लिए किसी भी विषय से सम्बंधित सामग्री को सिर्फ एक बार पढ़ना ही पर्याप्त नहीं होता हैं, बार बार पढ़ना पड़ता हैं। बार बार पढ़ने से मतलब रटना नहीं हैं बल्कि  उसे समझना हैं।

नमस्कार दोस्तों मैं हु सुभशिव और स्वागत है आपका हमारी वेबसाइट SUBHSHIV.IN पर

आज हम आपके लिए लेकर आए हैं हिंदी व्याकरण का अति महत्वपूर्ण टॉपिक भाववाचक संज्ञा 

भाववाचक संज्ञा टॉपिक से हर एग्जाम में questions पूछे जाते है।


इस टॉपिक की इंपोर्टेंस को देखते हुए हम लाए हैं आपके लिए भाववाचक संज्ञा के अति महत्वपूर्ण नोट्स जो कि subject  के एक्सपर्ट के द्वारा तैयार किए गए हैं 


तो दोस्तों हम आशा करते हैं की यह नोट्स आपके लिए उपयोगी साबित होंगे 

अगर नोट्स अच्छे लगे तो  शेयर कीजिए और सुझाव और शिकायत के लिए हमें कमेंट करके बताइए।


NOTES

DOWNLOAD LINK

REET

DOWNLOAD

REET NOTES

DOWNLOAD

LDC

DOWNLOAD

RAJASTHAN GK

DOWNLOAD

INDIA GK

DOWNLOAD

HINDI VYAKARAN

DOWNLOAD

POLITICAL SCIENCE

DOWNLOAD

राजस्थान अध्ययन BOOKS

DOWNLOAD

BANKING

DOWNLOAD

GK TEST PAPER SET

DOWNLOAD

CURRENT GK

DOWNLOAD

भाववाचक संज्ञा :- 

● किसी भाव अवस्था, गुण अथवा दशा के नाम को भाववाचक संज्ञा कहते है। 

जैसे -  बचपन, सुन्दरता, बुढ़ापा , मिठास , बचपन , चढाई , थकावट , मोटापा , मानवता , चतुराई , जवानी , लम्बाई , मित्रता , मुस्कुराहट आदि


कुछ विद्वान अंग्रेजी व्याकरण की नकल करते हुए हिन्दी में भी (1) समुदायवाचक संज्ञा तथा (2) द्रव्यवाचक संज्ञा दो भेद और बताते हैं किन्तु हिन्दी में उक्त दोनों भेद जाति-वाचक संज्ञा के अन्तर्गत आते है।


भाववाचक संज्ञाएँ बनाना : -


● जातिवाचक संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, क्रिया तथा कुछ अव्यय पदों के साथ प्रत्यय के मेल से भववाचक संज्ञाएँ बनती हैं। 

1.जातिवाचक संज्ञा से भाववाचक संज्ञा बनाना :-

'ता' प्रत्यय के मेल से : - 

● मानव-मानवता मित्र-मित्रता, प्रभु-प्रभुता, पशु-प्रशुता

'त्व' प्रत्यय के मेल से :- 

●पशु-पशुत्व. मनुष्य-मनुष्यत्व, कवि-कवेत्य गुरु-गुरुत्व।

'पन' प्रत्यय के मेल से :- 

● लड़का-लड़कपन, बच्चा-बचपन ।

'अ' प्रत्यय के मेल से :- 

● शिशु-शैशव, गुरु-गौरव, विमु-वैभव।

'इ' प्रत्यय के मेल से :- 

● भक्त-भक्ति

'ई' प्रत्यय के मेल से :- 

● नौकर-नौकरी चोर-चोरी

'आपा' प्रत्यय के मेल से :- 

● बूढ-बुढ़ापा, बहन-बहनापा।


अन्य उदाहरण :- 

● पंडित = पांडित्य , बंधु = बंधुत्व , क्षत्रिय = क्षत्रियत्व , पुरुष = पुरुषत्व , ब्राह्मण = ब्राह्मणत्व , मित्र = मित्रता , बच्चा = बचपन , शैतान = शैतानी , मानव = मानवता , बूढ़ा = बुढ़ापा , दोस्त = दोस्ती , लड़का = लडकापन , मनुष्य = मनुष्यता , शत्रु = शत्रुता ,शहर = शहरी, मूर्ख = मूर्खता , घर = घरेलू , देहात = देहाती , समाज = सामाजिकता , विद्वान् = विद्वता , जाति = जातियता , स्त्री = स्त्रीत्व , दानव = दानवता , गुरु = गुरुत्व , नारी = नारीत्व ,बालक = बालकपन , युवक = यौवन , शिशु = शैशव  , माता = मातृत्व , साधु = साधुता , दूत = दौत्य , प्रतिनिधि = प्रतिनिधित्व , राष्ट्र = राष्ट्रीयता , भाई = भाईचारा , इन्सान = इंसानियत , वकील = वकालत , कृपण = कृपणता , बहन = बहनापा , शास्त्र = शास्त्रीयता

2. सर्वनाम से भाववाचक संज्ञा :- 

'त्व' प्रत्यय के मेल से :-

● अपना-अपनत्य, निज - निजत्व, स्व-स्वत्व।

'पन' प्रत्यय के मेल से :- 

● अपना - अपनापन, पराया-परायापन ।

'कार' प्रत्यय के मेल से :- 

● अहं - अहंकार।

'स्य' प्रत्यय के मेल से :-

● सर्व-सर्वस्य।

अन्य उदाहरण :- 

अपना = अपनापन , अपनत्व , निज = निजत्व , निजता , पराया = परायापन , स्व = स्वत्व , सर्व = सर्वस्व , निज = निजत्व  मम = ममता , ममत्व , आप = आपा , अहं = अहंकार

3. विशेषण से भाववाचक संज्ञा : -

'आई' प्रत्यय के मेल से :-

● साफ-सफाई, अच्छा-अच्छाई, बुरा-मुराई।

'आस' प्रत्यय के मेल से :- 

● खट्टा-खटास, मीठा-मिठास।

'ता' प्रत्यय के मेल से :- 

● उदार-उदारता, वीर-वीस्ता, सरल-सरलता।

'य' प्रत्यय के मेल से :- 

● मधुर-माधुर्य, सुन्दर-सौन्दर्य, स्वस्थ-स्वास्थ्य

'पन' प्रत्यय के मेल से :- 

● खट्टा-खट्टापन पीला-पीलापन

'त्व' प्रत्यय के मेल से :- 

● वीर - वीरत्व।

'ई' प्रत्यय के मेल से :-

● लाल -  लाली।


NOTES

DOWNLOAD LINK

REET

DOWNLOAD

REET NOTES

DOWNLOAD

LDC

DOWNLOAD

RAJASTHAN GK

DOWNLOAD

INDIA GK

DOWNLOAD

HINDI VYAKARAN

DOWNLOAD

POLITICAL SCIENCE

DOWNLOAD

राजस्थान अध्ययन BOOKS

DOWNLOAD

BANKING

DOWNLOAD

GK TEST PAPER SET

DOWNLOAD

CURRENT GK

DOWNLOAD

अन्य उदाहरण :- 

मीठा = मिठास, चतुर = चतुराई , मधुर = माधुर्य , सुंदर = सौन्दर्य , सुन्दरता , अच्छा = अच्छाई , नीच = नीचता , बड़ा = बडप्पन , सरल = सरलता , निपुण = निपुणता , रिक्त = रिक्तता , निर्बल = निर्बलता , तीक्ष्ण = तीक्ष्णता , सफल = सफलता , प्रवीण = प्रवीणता , उदार = उदारता , वक्र = वक्रता , वाचाल = वाचालता , सीतल = सीतलता , कायर = कायरता , धीर = धीरता , खट्टा = खटास , बुरा = बुराई , भला = भलाई , तीखा = तीखापन , ढीठ = ढिठाई , बाँका = बाँकपन , नीचा = निचाई , ऊँचा = ऊँचाई , साधु = साधुत्व , लम्बा = लम्बाई , बूढ़ा = बुढ़ापा , मोटा = मोटाई , चिकना = चिकनापन , जंगली = जंगलीपन, गंभीर = गंभीरता, मूर्ख = मूर्खता , मूढ़ = मूढ़ता , कटु = कटुता, गुरु = गुरुत्व , गरीब = गरीबी , कठोर = कठोरता , गर्म = गर्मी , ठंडा = ठंडक , चौड़ा = चौडाई , गंदा = गंदगी , सामाजिक = सामाजिकता , काला = कालापन , नीला = नीलापन , लाल = लाली , वीर = वीरता , लालची = लालच, भिन्न = भिन्नता , शांत = शांति , सभ्य = सभ्यता , एक = एकता , निपुण = निपुणता , साहित्यिक = साहित्य

शूर = शूरता , शौर्य


4. क्रिया से भाववाचक संज्ञा :- 

'अ' प्रत्यय के मेल से :-

● खेलना-खेल, लूटना - लूट, जीतना-जीत ।

'ई' प्रत्यय के मेल से :-

● हँसना-हँसी.

'आई' प्रत्यय के मेल से :-

● चढ़ना-चढ़ाई, पढ़ना-पढ़ाई,लिखना-लिखाई।

'आवट' प्रत्यय के मेल से :-

● बनाना-बनावट, थकना-थकावट, लिखना-लिखावट

'आहट' प्रत्यय के मेल से :-

● घबराना - घबराहट, गुनगुनाना - गुनगुनाहट ।

अन्य उदाहरण :- 

● खेलना = खेल , थकना = थकावट , लिखना = लेख , हँसना = हँसी , धोना = धुलाई , पढना = पढाई , सीना = सिलाई , रोना = रुलाई , लड़ना = लड़ाई , पढना = पढाई , पीटना = पिटाई , देखना = दिखावट , सींचना = सिंचाई , पड़ना = पड़ाव , पहनना = पहनावा , चमकना = चमक , लूटना = लुट ,जोड़ना = जोड़ , घटना = घटाव , नाचना = नाच , बोलना = बोल , पूजना = पूजन , झुलना = झूला , जोतना = जुताई , कमाना = कमाई , बचना = बचाव , रुकना = रुकावट ,बनना = बनावट ,मिलना = मिलावट , बुलाना = बुलावा , छापना = छपाई , फिसलना = फिसलन , रँगना = रँगाई  , उड़ना = उड़ान , घबराना = घबराहट , मुड़ना = मोड़  , चढना = चढाई , बहना = बहाव , मारना = मार , दौड़ना = दौड़ , गिरना = गिरावट , कूदना = कूद , मंद = मंदी ,दूर = दुरी , तीव्र = तीव्रता , उतरना = उतार , पुकारना = पुकार ,लिखना = लिखावट, बनाना = बनावट , चलना = चलन , बिकना = बिक्री , जपना = जाप  , जमना = जमाव , छटपटाना = छटपटाहट , उतरना = उतराई , कमाना = कमाई , कोंधना = कोंध , जीना = जीवन , ठगना = ठगी , देना = देन , पालना = पालन , बरसना = बारिश, बोना = बुवाई , भिड़ना = भिडंत


NOTES

DOWNLOAD LINK

REET

DOWNLOAD

REET NOTES

DOWNLOAD

LDC

DOWNLOAD

RAJASTHAN GK

DOWNLOAD

INDIA GK

DOWNLOAD

HINDI VYAKARAN

DOWNLOAD

POLITICAL SCIENCE

DOWNLOAD

राजस्थान अध्ययन BOOKS

DOWNLOAD

BANKING

DOWNLOAD

GK TEST PAPER SET

DOWNLOAD

CURRENT GK

DOWNLOAD

5. अव्यय से भाववाचक संज्ञा :-

'ई' प्रत्यय के मेल से :-

● भीतर-भीतरी, ऊपर-ऊपरी दूर-दूरी।

'य' प्रत्यय के मेल से :-

● सनीप - सामीप्य।

'इक' प्रत्यय के मेल से :-

● परस्पर - पारस्परिक. व्यवहार -व्यावहारिक ।

'ता' प्रत्यय के मेल से :-

● निकट - निकटता, शीघ-शीघता।


NOTES

DOWNLOAD LINK

REET

DOWNLOAD

REET NOTES

DOWNLOAD

LDC

DOWNLOAD

RAJASTHAN GK

DOWNLOAD

INDIA GK

DOWNLOAD

HINDI VYAKARAN

DOWNLOAD

POLITICAL SCIENCE

DOWNLOAD

राजस्थान अध्ययन BOOKS

DOWNLOAD

BANKING

DOWNLOAD

GK TEST PAPER SET

DOWNLOAD

CURRENT GK

DOWNLOAD

अन्य उदाहरण :- 

● परस्पर = पारस्पर्य, समीप = सामीप्य , निकट = नैकट्य , शाबाश = शाबाशी , वाहवाह = वाहवाही, धिक् = धिक्कार, शीघ्र = शीघ्रता, दूर = दुरी , मना = मनाही, हा-हा = हाहाकार

एक टिप्पणी भेजें

3 टिप्पणियाँ

शिकायत और सुझाव यहां दर्ज करें ।
👇