Rajasthan Current Affairs May 2022 hindi PDF

 

Rajasthan Current Affairs May 2022 in  hindi PDF


Rajasthan Current Affairs May 2022 hindi PDF




Rajasthan current affairs of 1 May, 2022

चिरंजीवी दुर्घटना बीमा योजना का शुभारम्भ

'मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना' में बीमित परिवारों को दुर्घटनाओं से होने वाली मृत्यु अथवा पूर्ण स्थाई अपंगता की स्थिति में आर्थिक सम्बल प्रदान करने के उद्देश्य से राज्य सरकार द्वारा ‘मुख्यमंत्री चिरंजीवी दुर्घटना बीमा योजना' की शुरुआत 1 मई, 2022 से की है।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में सभी बीमित परिवार इस योजना के पात्र लाभार्थी होंगे और बीमित परिवार के सदस्य अथवा सदस्यों की दुर्घटना में मृत्यु होने अथवा दुर्घटना के कारण हाथ, पैर, आँख की स्थाई पूर्ण क्षति होने पर पाँच लाख रुपए तक का आर्थिक सम्बल प्रदान किया जाएगा।

● बीमा योजना के तहत् बीमित परिवार के सदस्य की दुर्घटना में मृत्यु हो जाने पर ₹5 लाख, दुर्घटना में दोनों हाथों या दोनों पैरों या दोनों आँखों अथवा एक हाथ एवम एक पैर या एक हाथ व एक आंख या एक पैर एवम एक आँख की पूर्ण क्षति पर ₹ 3 लाख तथा दुर्घटना में हाथ, पैर, आँख की पूर्ण क्षति पर ₹1.5 लाख का लाभ दिया जाएगा।

Rajasthan current affairs of  2 May, 2022

किशनगढ़ एयरपोर्ट पर फ्लाइंग एकेडमी खुलेगी

एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (AAI) की एफटीओ यानी उड़ान प्रशिक्षण संगठन नीति के तहत राजस्थान के किशनगढ़ (अजमेर) एयरपोर्ट पर नई फ्लाइंग ट्रेनिंग एकेडमी खुलेगी। 

भारत में नई फ्लाइंग एकेडमी खोलने के लिए 10 एयरपोर्ट किशनगढ़, कूचबिहार, देवघर, झारसुगुड़ा, तेजू, मेरठ, कडपा, हुबली, भावनगर और सेलम का चयन किया गया है।

● किशनगढ़ में खुलने वाली फ्लाइंग एकेडमी में पायलट की ट्रेनिंग के लिए भौतिक, रसायन और गणित में 12वीं पास उत्तीर्ण स्टूडेंट आवेदन कर सकेंगे, जिसका लगभग ₹ 25 से ₹27 लाख खर्चा आएगा।


Rajasthan current affairs of  5 May, 2022

पोकरण में एडवांस टोड आर्टिलरी गन सिस्टम एटीजेएस का लगातार सात दिवसीय परीक्षण सफल रहा



पोकरण (जैसलमेर) में एडवांस टोड आर्टिलरी गन सिस्टम एटीजेएस का लगातार सात दिवसीय परीक्षण 2 मई 2022 को पूरा हुआ। 

● यह परीक्षण सफल रहा। 

● इस एटीजेएस-टोड का निर्माण भारत की दो कंपनियों भारत फोर्ज लिमिटेड व टाटा एडवांस्ड सिस्टम लिमिटेड के द्वारा किया गया है।

● एटीजेएस टोड गन का वर्ष 2016 में पहला परीक्षण किया गया था। 

एटीजेएस टोड गन सिस्टम के संबंध में प्रमुख तथ्य :- 

● इस तोप का वजन 18 टन है।

● यह सबसे लंबी दूरी तक वार करने में सक्षम स्वदेशी तोप है। 

● यह तोप माइनस तीन डिग्री से प्लस 75 डिग्री तक एलिवेशन ले सकती है।

● इसकी फायरिंग रेंज 48 किमी. से 52 किमी. तक बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है।

● इस सिस्टम को विकसित करने में करीब चार वर्ष लगे ।

● भारतीय सेना के पास 155 एमएम की ऐसी फिलहाल सात गन हैं।

● इस तोप के बैरल की लंबाई 8060 मिलीमीटर है।

Rajasthan current affairs of 6 May, 2022

भारत-पाक पश्चिमी सीमा पर कैमरों की मदद से निगरानी का बीकानेर पहला सेक्टर बना

भारत-पाक पश्चिमी सीमा पर कैमरों की मदद से निगरानी का बीकानेर पहला सेक्टर बना है। इसके लिए भारत-पाक अन्तर्राष्ट्रीय सीमा पर तैनात सीमा सुरक्षा बल(बीएसएफ) के बीकानेर सेक्टर में कैमरे लगाए गए हैं। 

● इन कैमरों को फाइबर केबल बिछाकर बीएसएफ के सेक्टर मुख्यालय बीकानेर से जोड़ा गया है जिससे अधिकारी कैमरों की मदद से बॉर्डर के पास की स्थिति को लाइव देख सकेंगे। भारत-पाक अन्तर्राष्ट्रीय सीमा का 1070 कि.मी. भारत-पाक बॉर्डर एरिया राजस्थान से सटा है।

विश्व बैंक की टीम ने बीसलपुर बांध का निरीक्षण किया


● 6 मई, 2022 को टोंक जिले में स्थित बीसलपुर बांध पर विश्व बैंकनेशनल हाइड्रोलॉजी प्रोजेक्ट की टीम के सदस्यों ने निरीक्षण किया। बांध पर स्काडा सिस्टम को भी देखा। बीसलपुर बांध पर विश्व बैंक की ओर से सुरक्षा दीवार बनाई जा रही है।

सीबीबीओ और एफपीओ का जयपुर में सम्मेलन

● 10,000 एफपीओ के गठन और संवर्धन की योजना के तहत् क्लस्टर आधारित व्यापार संगठनों (सीबीबीओ) और किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) के सम्मेलन का आयोजन जयपुर के बिड़ला ऑडिटोरियम में किया गया।

● 'सीबीबीओ' (Cluster-Based Business Organizations -CBBOs) ' एफपीओ' (Farmer Producer Organizations -FPOs) सम्मेलन का उद्घाटन केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री कैलाश चौधरी द्वारा 6 मई, 2022 को किया गया ।

● सम्मेलन का उद्देश्य छोटे और सीमांत किसानों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने और नई उत्पादन प्रौद्योगिकी के बारे में जागरूकता पैदा करना था ।

Rajasthan current affairs of 9 May, 2022

देश के पहले हेरिटेज चंबल रिवर फ्रंट का विस्तार होगा; 6 कि.मी. से बढ़कर 19 कि.मी. होगा


● हाल ही में कोटा में बन रहे देश के पहले हैरिटेज चंबल रिवर फ्रंट के विस्तार की घोषणा की गई है। 

● चंबल रिवर फ्रंट के फर्स्ट फेज के अन्तर्गत ₹1000 करोड़ की लागत से कोटा बैराज से नयापुरा चंबल ब्रिज तक नदी के दोनों किनारों पर 6 कि.मी. एरिया को डवलप किया जा रहा है जो दिसम्बर, 2022 तक पूरा होगा। 

● इसके सेकंड फेज में नयापुरा चंबल ब्रिज से रेलवे ब्रिज तक चंबल नदी के दोनों किनारों को डवलप किया जाएगा, जिसमें चम्बल नदी के एक तरफ 6.50 कि.मी. एरिया डवलप किया जाएगा जिससे इसमें 13 कि.मी. का विस्तार होगा। 

फर्स्ट और सेकंड फेज दोनों मिलाकर इसकी कुल लम्बाई 19 कि.मी. हो जाएगी।

● चम्बल रिवर फ्रंट के सेकंड फेज को ग्रीन थीम पर बनाया जाएगा।

राजस्थान में पहली बार स्मार्ट हैल्थ कियोस्क शुरू होगा, कोटा मेडिकल कॉलेज में खुलेगा; एटीएम की तरह संचालित होगा; स्वयं कर सकेंगे 50 तरह की जाँचे

● राजस्थान में पहली बार स्मार्ट हैल्थ कियोस्क कोटा मेडिकल कॉलेज में शुरू होगा।

● इस कियोस्क में कोई भी व्यक्ति 50 तरह की जाँचें स्वयं कर सकेगा। 

● यह एटीएम की तरह संचालित होगा। 

इस तकनीक को भारत में ही विकसित किया गया है, इसे महाराष्ट्र की कम्पनी ने बनाया है।


इस मशीन पर निम्न टेस्ट हो सकेंगे- 

बीएमआई बॉडी फैट

एसपीओ 2 लेवल

लम्बाई मेटाबोलिक एज

मसल मास

बॉडी टेम्प्रेचर

शुगर-बीपी टेस्ट

हैल्थ स्कोर

कान व आँखों से जुड़े सभी टेस्ट

कोविड टेस्ट

ईसीजी

स्किन टेस्ट

प्रेग्नेंसी

एचबी 1 एसी

हीमोग्लोबिन

यूरीन टेस्ट

मलेरिया - चिकनगुनिया

टायफाइड

किडनी टेस्ट

एचआईवी

टीबी

निकोटिन से जुड़े 50 तरह के टेस्ट 

स्मार्ट हैल्थ कियोस्क मशीन के सम्बन्ध में प्रमुख तथ्य

● यह मशीन एटीएम की तरह है और टच स्क्रीन है।

● इसमें सभी फंक्शन की डिटेल सामने स्क्रीन पर मिलती रहेगी और प्रोसेस आगे बढ़ता रहेगा।

● गत एक साल से ही इसका प्रोडक्शन शुरू हुआ है और देश में 600 मशीनें दी जा चुकी हैं।

● इस मशीन में हर टेस्ट के लिए टेक्नॉलाजी इनेबल है। 

● किसी को हीमोग्लोबिन की जाँच करानी है तो मशीन से स्ट्रिप मिलेगी। मशीन ही पिन देगी, जिससे प्रिक कर ब्लड उस स्ट्रिप पर डालना होगा। टेस्ट के बाद रिपोर्ट स्क्रीन पर दिखेगी, प्रिंट भी ले सकेंगे। मशीन से ही सम्बन्धित डॉक्टर को वाट्सएप पर रिपोर्ट भेज सकेंगे।

कोटा मेडिकल कॉलेज में लगाई जा रही मशीन बेसिक मॉडल है। एडवांस मॉडल में डॉक्टर से वीडियो कंसल्टेशन और मेडिसिन बैंक के फीचर्स भी हैं।

● इसमें डॉक्टर को दिखाएंगे तो सारी जाँचें दिख जाएँगी और वह पर्चा लिखकर देंगे, जिस पर क्यूआर कोड होगा। उससे मेडिसिन बैंक से दवाएँ मिल जाएँगी। ऑनलाइन पेमेंट का विकल्प भी इसमें है ।

● इस मशीन में ईसीजी के लिए तीन प्वाइंट्स हैं, जो अपने शरीर पर दिए गए निर्देशानुसार लगाने होंगे।


Rajasthan current affairs of 10 May, 2022

राष्ट्रीय सहकार मेला में विभिन्न संस्थाएँ पुरस्कृत

● राजधानी जयपुर के जवाहर कला केन्द्र में "राष्ट्रीय सहकार मसाला मेला" का आयोजन 30 अप्रैल - 9 मई, 2022 को किया गया। 

● इस सहकार मेले में आमजन को कॉनफैड के माध्यम से पहली बार 15 जैविक उत्पाद उपलब्ध कराने की शुरुआत की गई । 

● सहकार मसाला मेले में सर्वाधिक बिक्री के लिए अन्य प्रदेशों में केरल स्टेट को-ऑपरेटिव मार्केटिंग फैडरेशन, शीर्ष संस्थाओं में कॉनफैड, जिला भण्डारों में कोटा सहकारी उपभोक्ता भण्डार व क्रय-विक्रय सहकारी समितियों में भीनमाल ने पहला स्थान प्राप्त किया ।

● इसी प्रकार सर्वश्रेष्ठ डिसप्ले के आधार पर राष्ट्रीय स्तर की संस्थाओं में कृभको, इफको तथा शीर्ष सहकारी संस्थाओं में राजफैड, कॉनफैड, तिलम संघ, जयपुर डेयरी एवं अपैक्स बैंक को सम्मानित किया गया ।

राजस्थान केबिनेट की बैठक में महत्त्वपूर्ण निर्णय लिए गए

पुरानी पेंशन योजना के क्रियान्वयन

● 10 मई, 2022 को राजस्थान केबिनेट की मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए जो इस प्रकार हैं :-

● पुरानी पेंशन योजना के क्रियान्वयन के लिए नियमों में आवश्यक संशोधन करने का निर्णय किया गया। 

● जिसके तहत 1 जनवरी, 2004 एवं उसके बाद नियुक्त कर्मचारी अपनी सेवानिवृति पर पेंशन परिलाभों के पात्र होंगे। 

● पेंशन परिलाभ अप्रैल, 2022 से देय है।

● इसमें राजस्थान सिविल सेवा (पेंशन) नियम 1996, राजस्थान सिविल सेवा (अंशदायी पेंशन) नियम 2005 विभिन्न पुनरीक्षित वेतनमान नियमों एवं राजस्थान सिविल सेवा (चिकित्सा परिचर्या) नियम 2013 में विभिन्न संशोधनों के प्रस्ताव को स्वीकृति दी गई।

समान पात्रता परीक्षा (सीईटी)


● राजस्थान में एक जैसी पात्रता वाली विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के स्थान पर अब एक समान पात्रता परीक्षा (सीईटी) आयोजित होगी। 

● इसके लिए राजस्थान अधीनस्थ एवं मंत्रालयिक सेवा (समान पात्रता परीक्षा) नियम 2022 बनाया जाएगा।

● ऐसे पदों, जिनकी चयन प्रक्रिया में साक्षात्कार आवश्यक नहीं है, में साक्षात्कार के प्रावधान को हटाने एवं ऐसे पद, जिसमें संवाद कौशल की आवश्यकता है, में भरांक कुल अंकों का अधिकतम 10 प्रतिशत तय करने के लिए संशोधन किया जाएगा।

● आरपीएससी में सीधी भर्ती के जरिये भरे जाने वाले जिन पदों के लिए साक्षात्कार का प्रावधान है, उनमें साक्षात्कार का प्रावधान हटाने का निर्णय किया गया है।

पैरालिंपिक पदक विजेताओं को इंदिरा गांधी नहर परियोजना क्षेत्र में निःशुल्क 25 बीघा

● राजस्थान के निवासी पैरालिंपिक पदक विजेताओं को इंदिरा गांधी नहर परियोजना क्षेत्र में निःशुल्क 25 बीघा भूमि का आवंटन हो सकेगा।

सोलरपार्क की स्थापना के लिए

● जैसलमेर में 6000 हैक्टेयर सिवायचक भूमि को 2000 मेगावाट सोलरपार्क की स्थापना के लिए अडानी रिन्यूएबल एनर्जी पार्क राजस्थान लि. को कीमतन भूमि आवंटन पर निर्णय किया गया।

Rajasthan current affairs of 12 May, 2022

मुख्यमंत्री ने किया राज्य के पहले बर्ड पार्क का लोकार्पण

● प्रदेश मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा उदयपुर के पर्यावरण व पर्यटन को प्रोत्साहित करने के लिए उदयपुर के गुलाबबाग में प्रदेश के पहले पक्षी उद्यान (बर्ड पार्क) का लोकार्पण 12 मई, 2022 को किया गया ।

गुलाबबाग में लगभग ₹ 11.50 करोड़ के व्यय से इस बर्ड पार्क का विकास पर्यटन विभाग, वन विभाग, नगर निगम व यूआईटी द्वारा संयुक्त रूप से करवाया गया है।

● लगभग 3.85 हेक्टेयर क्षेत्र में फैले इस पार्क का निर्माण कार्य आरएसआरडीसी लिमिटेड द्वारा किया गया है ।

● मुख्यमंत्री ने उदयपुर जिले में पैंथर्स की संख्या को देखते हुए पैंथर संरक्षण के लिए 'पैंथर रेस्क्यू सेंटर' स्थापित करने की घोषणा की। उदयपुर जिले में पैंथर्स की बड़ी संख्या है, जो कई बार आबादी क्षेत्र में भी आ जाते हैं ।

शहरी निकायों के पार्षदों के भत्ते में बढ़ोतरी की गई

● हाल ही में राजस्थान सरकार ने प्रदेश के 213 नगरीय निकायों ( नगर निगम, नगर परिषद, नगरपालिका) के सभी सदस्यों (पार्षदों) के मासिक भत्तों में 20 प्रतिशत की बढ़ोतरी की है। 

● बढ़ोतरी के बाद इनके भत्ते निम्न हैं


Rajasthan Current Affairs May 2022 hindi PDF


जयपुर के नजदीकी क्षेत्रों में जयपुर विकास प्राधिकरण (JDA) द्वारा वन भूमि को इको टूरिज्म के रूप में विकसित करने वाली 6 परियोजनाओं के लिए ₹44 करोड़ की स्वीकृति


● हाल ही में जयपुर के नजदीकी क्षेत्रों में जयपुर विकास प्राधिकरण (JDA) द्वारा वन भूमि को इको टूरिज्म के रूप में विकसित करने वाली 6 परियोजनाओं के लिए नगरीय विकास स्वायत्त शासन एवं आवासन मंत्री शांति धारीवाल ने ₹44 करोड़ की स्वीकृति दी। 

● इनमें तितली, तेंदुआ, जरख, पक्षी संरक्षण से लेकर बायो डायवर्सिटी विकसित करने की योजना है। 

6 योजनाएं निम्न होंगी

1. मुहाना वनखंड के 244 हैक्टेयर भूमि जो नेवटा बांध के बैक वाटर से वॉटरलोगिंग क्षेत्र वनखण्ड मुहाना में स्थित है, में 80 प्रजाति के पक्षियों के लिए आर्द्रभूमि संवर्धन ।

2. अरावली के बेर और तितली प्रजनन योजना। 

3. गोनेर परियोजना के अन्तर्गत जैव विविधता पर जोर देकर पौधरोपण मृदा जल संरक्षण, चैकी इत्यादि कार्य होंगे। 

4. आमागढ़ आरक्षित वन में तेंदुआ संरक्षण परियोजना 

5. नाहरगढ़ को टूरिस्ट डेस्टिनेशन बनाया जाएगा। इसके तहत यहां सफारी परियोजना का विकास होगा।

6. कालवाड़ रोड पर 100 हैक्टेयर में वनखंड विकसित होगा। इसके तहत जैव विविधता वन परियोजना बीड गोविन्दपुरा (आरक्षित वन) क्षेत्र में वन क्षेत्र विकसित होगा।

Rajasthan current affairs of 16 May, 2022


रामगढ़ विषधारी अभयारण्य बना राज्य का चौथा टाइगर रिजर्व

● राजस्थान स्थित 'रामगढ़ विषधारी अभयारण्य' भारत का 52वाँ बाघ अभयारण्य (Tiger reserve) बन गया है।

वन एवं पर्यावरण मंत्रालय द्वारा रामगढ़ विषधारी अभयारण्य को देश के 52वें बाघ अभयारण्य के रूप में अधिसूचित करने हेतु गजट नोटिफिकेशन 16 मई, 2022 को जारी कर दिया गया।

राष्ट्रीय बाघ अभयारण्य प्राधिकरण (एनटीसीए) ने रामगढ़ विषधारी वन्यंजीव अभयारण्य और इससे जुड़े इलाकों को बाघ अभयारण्य बनाने के लिए 5 जुलाई, 2021 को सैद्धांतिक स्वीकृति दी थी ।

● इसके साथ ही रणथम्भौर, सरिस्का और मुकुन्दरा के बाद यह राजस्थान का चौथा बाघ अभयारण्य बन गया है । 

● तथा क्षेत्रफल की दृष्टि से यह प्रदेश का दूसरा बड़ा टाइगर रिजर्व हो गया है।


Note :- राजस्थान राज्य में 4 टाइगर रिजर्व हैं जो इस प्रकार से हैं :- 

रणथम्भौर राष्ट्रीय उद्यान  - सवाईमाधोपुर

सरिस्का राष्ट्रीय उद्यान - अलवर

मुकुन्दरा हिल्स राष्ट्रीय उद्यान - कोटा

रामगढ़ विषधारी अभयारण्य - बूंदी


रामगढ़ विषधारी टाइगर रिजर्वः महत्वपूर्ण तथ्य

● बूँदी के रामगढ़ विषधारी टाइगर रिजर्व का कुल क्षेत्रफल 1501.89 वर्ग किलोमीटर रहेगा।

● इसमें कोर एरिया प्रथम 225.62 वर्ग किमी. व कोर एरिया द्वितीय 256.28 वर्ग किमी. रहेगा । 

● इसके साथ ही बफर क्षेत्र 1019.98 वर्ग किलोमीटर का रहेगा।

रामगढ़ विषधारी टाइगर रिजर्व में बूंदी जिले के साथ ही भीलवाड़ा जिले के कुछ वन क्षेत्रों को भी शामिल किया गया है।

इसमें बूँदी के रामगढ़ विषधारी, हिण्डोली, डाबी, नैनवां, केशवरायपाटन, चम्बल घडियाल अभयारण्य के साथ ही भीलवाड़ा में जलिन्द्री, बांका और भोपतपुरा का क्षेत्र शामिल किया गया है। भीलवाड़ा का कुल 9,548 हेक्टेयर वन क्षेत्र इसमें शामिल किया है।

बूँदी में टाइगर रिजर्व के लिए डिविजन बनेगा, साथ ही कई नई रेंज का भी गठन किया जाएगा।

● नए अधिसूचित बाघ अभयारण्य में पूर्वोत्तर में रणथम्भौर बाघ अभयारण्य और दक्षिण की तरफ मुकुन्दरा हिल्स बाघ अभयारण्य के बीच बाघों का अधिवास शामिल है और यह रणथम्भौर बाघ अभयारण्य से बाघों के आवागमन की सुविधा प्रदान करता है।

● नए बाघ अभयारण में फूलों की विविधता इसे अनुसंधान और शिक्षा के लिए एक महत्वपूर्ण क्षेत्र बनाती है ।

● यहाँ के भीमलत एवं रामगढ़ महल जैसे ऐतिहासिक और सांस्कृतिक स्थल पर्यावरण पर्यटन को बढ़ावा देंगे।

महत्वपूर्ण तथ्य

रामगढ़ विषधारी अभयारण्य का नोटिफिकेशन वर्ष 1982 में जारी हुआ था। 

● उस समय इसका कुल क्षेत्रफल 302 वर्ग किलोमीटर था।

● यहाँ वर्ष 1990 तक बाघों का बसेरा माना गया। 

● इसके बाद वर्ष 2004 में रणथम्भौर से निकलकर बाघ ब्रोकन टेल रामगढ़ से होता हुआ दर्रा अभयारण्य पहुँचा था।

राजस्थान निक्षय सम्बल योजना का शुभारम्भ

● राज्य के टीबी रोगियों को सम्बल एवं सामाजिक सहयोग उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार द्वारा जन सहयोग प्राप्त करने के उद्देश्य से 'राजस्थान निक्षय सम्बल योजना' का शुभारम्भ 16 मई, 2022 को किया गया ।

● विभाग द्वारा टी.बी. रोगियों को 'निक्षय पोषण योजना' के अन्तर्गत पौष्टिक आहार हेतु दी जा रही सहायता राशि प्रदान करने में भी सहायता की जाती है।

अभिनव शर्मा ने जीता ग्रीष्मकालीन डैफलम्पिक्स में स्वर्ण पदक

● राजस्थान के अभिनव शर्मा ने 'ग्रीष्मकालीन डेफलम्पिक्स-2021' के बैडमिंटन प्रतिस्पर्द्धा के टीम इंवेट में स्वर्ण पदक हासिल करने सफलता प्राप्त की है।

‘ग्रीष्मकालीन डेफलम्पिक्स-2021' का आयोजन 1-15 मई, 2022 को ब्राजील के काक्सियास डो सुल में किया गया।

● इस ग्रीष्मकालीन डेफलम्पिक्स में बैडमिंटन प्रतिस्पर्द्धा में अभिनव ने टीम इवेन्ट में एक स्वर्ण, मिक्स्ड डबल्स में एक स्वर्ण, सिंगल्स में एक कांस्य सहित कुल तीन पदक हासिल किए हैं।

● एक ही ओलम्पिक इवेन्ट में तीन पदक हासिल कर कीर्तिमान रचने वाले अभिनव जयपुर के निवासी हैं। उन्होंने इससे पहले एशियन डेफ चैम्पियनशिप में 4 कांस्य पदक तथा वर्ल्ड डेफ चैम्पियनशिप में एक कांस्य पदक हासिल किया था ।

रूर्बन मिशन पर रोक, केन्द्र की मंजूरी से ही नये काम होंगे

● देश के गांवों में छह वर्ष पूर्व केन्द्र सरकार ने श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन योजना शुरू की। 

● अब इस योजना के लिए राज्य सरकार ने नया काम मंजूर नहीं करने को कहा है तथा साथ ही आवश्यक कार्य के लिए मंजूरी केन्द्र स्तर पर ली जा सकेगी। 

● केन्द्र सरकार ने इस योजना के लिए वर्ष 2022-23 के बजट में ₹550 करोड़ का प्रावधान रखा है लेकिन नए काम मंजूर करने पर रोक भी लगाई है। 

● रूर्बन मिशन योजना के तहत तीन चरणों में ₹684 करोड़ खर्च किए गए।


Rajasthan current affairs of 18 May, 2022


सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने बॉम्बे हाइकोर्ट के न्यायाधीश एस. एस. शिंदे को राजस्थान का सी जे बनाने की सिफारिश की

● सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने बॉम्बे हाइकोर्ट के न्यायाधीश एस. एस. शिंदे को राजस्थान का मुख्य न्यायाधीश (सी.जे.) बनाने की सिफारिश की । वे मुख्य न्यायाधीश बन सकते हैं। भारत के उच्चतम न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश एन.वी. रमन्ना है।

जयपुर में पहला ई-रूर्बन स्कूल पोर्टल लॉन्च होगा

● भारत का पहला ई-रूर्बन स्कूल पोर्टल जयपुर में लॉन्च होगा। यह पोर्टल पीपल लैब्स की ओर से लॉन्च होगा। 

● इस पोर्टल के माध्यम से ग्रामीण और शहरी स्कूल के बच्चों को समान शिक्षा प्रदान की जाएगी, जिससे गांव और शहर के बच्चों के बीच विचारों का आदान-प्रदान हो सकेगा तथा गांव के बच्चे शहरी बच्चों की तरह शिक्षा के क्षेत्र में हो रहे नवाचारों के बारे में जानकारी ले सकेंगे।

Rajasthan current affairs of 23 May, 2022

मुख्यमंत्री ने किया आमागढ़ लेपर्ड रिजर्व का उद्घाटन 

● मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 'आमागढ़ लेपर्ड रिजर्व' (Amagarh Leopard Reserve) का उद्घाटन और लोकार्पण अन्तर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस पर 22 मई, 2022 को किया

● आमागढ़ लेपर्ड रिजर्व 16.36 वर्ग किमी. एरिया में है। यहाँ 23 मई, 2022 से पर्यटकों के लिए दो पारी में सफारी की शुरुआत की गई।

● राजस्थान के तीन लेपर्ड रिजर्व जिनमें सफारी की सौगात मिली है :- 

(1) जवाई लेपर्ड रिजर्व 

(2) झालाना लेपर्ड रिजर्व 

(3) आमागढ़ लेपर्ड रिजर्व 

● आमागढ़ लेपर्ड रिजर्व देश का पहला ऐसा रिजर्व होगा, जहाँ एक साथ चार सफारी होंगी।

लेपर्ड रिजर्व के बारे में

अरावली पर्वत श्रृंखलाओं पर स्थित आरक्षित वन खण्ड आमागढ़ 1524 हेक्टेयर में फैला हुआ वन क्षेत्र है, जो जयपुर शहर के पूर्व में स्थित है।

पहले लेपर्ड रिजर्व झालाना व नाहरगढ़ अभयारण्य के मध्य में स्थित होने के कारण यह वन क्षेत्र वन्य जीव संरक्षण एवं कॉरिडोर विकास की दृष्टि से अत्यन्त महत्वपूर्ण है।

● प्रदेश के आमागढ़ वन खण्ड से लगे हुए आरक्षित वन खण्ड लालबेरी 112 हेक्टेयर क्षेत्र में स्थित है। दोनों वन खण्डों का कुल क्षेत्रफल 1636 हेक्टेयर है। जिसकी पैरिफेरी करीब 28.6 किलोमीटर है। 

● यह वन क्षेत्र झालाना लेपर्ड रिजर्व व नाहरगढ़ अभयारण्य के मध्य स्थित है। 

लेपर्ड यहाँ का प्रमुख वन्य जीव है । 

● इस क्षेत्र में लगभग 15 लेपर्ड का आवास है।

● वर्ष 2018 में यहाँ लेपर्ड्स की संख्या लगभग 20 थी, वहीं वर्तमान में सम्पूर्ण क्षेत्र में लेपर्ड्स की कुल संख्या करीब 40 है।

● पिछले तीन वर्षों में (जनवरी 2019 से अगस्त 2021 तक) झालाना क्षेत्र में कुल 35 शावकों का जन्म हुआ है। 

● आमागढ़ वन क्षेत्र को लेपर्ड्स एवं अन्य वन्य प्राणियों ने दूसरे जंगलों में जाने के लिए कॉरिडोर के तौर पर इस्तेमाल किया है।

● पक्षियों में लोकल व माइग्रेटरी बर्ड सहित करीब 250 प्रकार की प्रजातियाँ पाई जाती हैं ।

● इस क्षेत्र के आस-पास कई किले और मन्दिर हैं, जैसे गलता मन्दिर, आमागढ़ क़िला, रघुनाथ किला और अम्बामाता मन्दिर ।

महत्वपूर्ण तथ्य

● जैव विविधता को बनाए रखने के लिए राजस्थान जैविक विविधता नियम की अधिसूचना वर्ष 2010 में जारी की गई।

राजस्थान में 3 राष्ट्रीय उद्यान, 27 वन्यजीव अभयारण्य, 16 कंजर्वेशन रिजर्व और 4 टाइगर प्रोजेक्ट हैं।

‘प्रोजेक्ट टाइगर’ की शुरुआत वर्ष 1972 में की गई थी। 

● राजस्थान में हाल ही अधिसूचित रामगढ़ विषधारी सहित चार टाइगर रिजर्व है। 

● जयपुर के झालाना डूंगरी स्थित विश्व वानिकी उद्यान की तर्ज पर जोधपुर, बीकानेर, कोटा, उदयपुर, भरतपुर और अजमेर में भी वानिकी उद्यान विकसित किए जा रहे हैं।


इंदिरा गांधी शहरी रोजगार योजना के क्रियान्वयन के लिए नवीन दिशा-निर्देश मंजूर

● ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार उपलब्ध कराने के लिए महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारन्टी योजना (मनरेगा) की तर्ज पर शहरी क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से राज्य में 'इन्दिरा गांधी शहरी रोजगार योजना' शुरू की गई है। 

● वर्ष 2022-23 के बजट में यह घोषणा की गई थी कि शहरी क्षेत्रों में निवास करने वाले परिवारों को प्रति वर्ष 100 दिन का रोजगार ' इन्दिरा गांधी शहरी रोजगार योजना' के अन्तर्गत उपलब्ध करवाया जाएगा।

● इस महत्वाकांक्षी योजना पर राज्य सरकार प्रतिवर्ष ₹800 करोड़ व्यय करेगी।

● मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस 'इन्दिरा गांधी शहरी रोजगार योजना' के क्रियान्वयन के लिए नवीन दिशा-निर्देशों को स्वीकृति मई 2022 में दी है।

● इसमें अकुशल श्रमिक को ₹259, अर्द्धकुशल को ₹271, कुशल को ₹283 और उच्च कुशल श्रमिक को ₹333 न्यूनतम मजदूरी मिलेगी। 

● शहरी रोजगार गारंटी योजना के अन्तर्गत नगर निकायों के काम को शामिल किया गया है जिसमें परम्परागत जल स्रोतों के रखरखाव से लेकर घर-घर कचरा संग्रहण, नाला सफाई, अवैध होर्डिंग- पोस्टर हटाने, लावारिस मवेशियों को पकड़ने सहित पर्यावरण संरक्षण के कई काम शामिल किए गए हैं।

योजना के लिए स्वीकृत प्रमुख दिशा-निर्देश


● प्रस्तावित योजना में स्थानीय निकाय क्षेत्र में निवास कर रहे 18 वर्ष से 60 वर्ष की आयु के सदस्य का जन आधार कार्ड के आधार पर पंजीयन किया जाएगा। 

● योजना में अनुमत कार्य करवाने हेतु राज्य/जिला/निकाय स्तर पर कमेटियों के माध्यम से कार्य स्वीकृत एवं निष्पादित करवाया जाएगा।

● सामान्य प्रकृति के कार्य स्वीकृत एवं निष्पादित कराने की सामग्री लागत व पारिश्रमिक लागत का अनुपात 25:75 तथा विशेष प्रकृति के कार्यों हेतु सामग्री लागत तथा पारिश्रमिक भुगतान का अनुपात 75:25 होगा।

● कार्यों का भुगतान मनरेगा के अनुरूप श्रमिकों के बैंक खाते में 15 दिवस में किया जाएगा।

● योजना के संचालन हेतु स्थानीय निकाय विभाग तथा निकाय स्तर पर योजना प्रकोष्ठ गठित करते हुए विभिन्न अधिकारियों/कार्मिकों की प्रतिनियुक्ति/संविदा नियुक्ति की जाएंगी।

मनरेगा योजना के अनुरूप प्रस्तावित योजना के लिए प्रशासनिक व्यय को ₹800 करोड़ के 6 प्रतिशत तक सीमित रखे जाने के प्रस्ताव पर भी सहमति प्रदान की है।

● कार्यस्थल पर श्रमिकों को सुविधाएँ प्रदान करने के साथ ही शिकायतों के निवारण एवं सामाजिक अंकेक्षण के लिए भी योजना में प्रावधान किए गए हैं।

मुख्यमंत्री सलाहकार समिति का गठन

● मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा राज्य के सर्वांगीण विकास के लिए 'मुख्यमंत्री सलाहकार समिति' का गठन किया गया है ।

● मुख्यमंत्री की अध्यक्षता वाली इस समिति में 6 सलाहकार सदस्य व 1 सदस्य सचिव हैं ।

सलाहकार सदस्य - 

● समिति में विधायक जितेन्द्र सिंह, बाबूलाल नागर, राजकुमार शर्मा, संयम लोढ़ा, रामकेश मीणा व दानिश अबरार ।

● इस समिति का प्रशासनिक विभाग सामान्य प्रशासन विभाग होगा। 

कार्य- 

● सलाहकार सदस्य, अध्यक्ष के निर्देशानुसार विभिन्न क्षेत्रों के दौरे कर राज्य सरकार के फ्लैगशिप कार्यक्रमों के क्रियान्वयन के सम्बन्ध में समय-समय पर अवगत कराएँगे।

गौशालाओं और नंदीशालाओं के संचालन हेतु मंत्रिमण्डलीय समिति गठित

● प्रदेश में गोपालन और गौवंश के संर्वधन के लिए राज्य सरकार ने राज्य में गौशालाओं, नंदीशालाओं के बेहतर संचालन एवं आवारा पशुओं से होने वाली समस्याओं के निराकरण के लिए 7 मंत्रियों की एक मंत्रिमण्डलीय समिति 21 मई, 2022 को गठित की गई है। 

● इस समिति में स्वायत्त शासन एवं नगरीय विकास मंत्री शांति कुमार धारीवाल संयोजक और गोपालन मंत्री प्रमोद जैन भाया समन्वयक होंगे। 

इस समिति का प्रशासनिक विभाग गोपालन विभाग होगा। 

समिति के कार्य- 

● यह समिति गौशालाओं को चारागाह भूमि के आवंटन, नंदीशालाओं के कार्यान्वयन में आ रही व्यावहारिक समस्याओं के निराकरण, शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में आवारा पशुओं की समस्याओं के समाधान तथा इन विषयों से सम्बन्धित अन्य कार्यों पर चर्चा कर निर्णय लेगी

Rajasthan current affairs of 25 May, 2022


 शिक्षा मंत्रालय ने नेशनल अचीवमेंट सर्वे 2021 की रिपोर्ट जारी की

● 24 मई, 2022 को शिक्षा मंत्रालय ने नेशनल अचीवमेंट सर्वे 2021 की रिपोर्ट जारी की। इसमें कोरोना से प्रभावित होने के बाद भी राजस्थान राष्ट्रीय औसत से आगे रहा है। 

● यह रिपोर्ट शिक्षा मंत्रालय द्वारा तीसरी, पाँचवीं, आठवीं और दसवीं के बच्चों के लर्निंग स्तर पर जारी की गई है।

नेशनल अचीवमेंट सर्वे में राजस्थान का प्रदर्शन 

तीसरी कक्षा के बच्चों का लर्निंग स्तर

ओवरऑल अचीवमेंट स्कोर का राष्ट्रीय औसत 59 प्रतिशत रहा, जबकि राजस्थान का औसत 66.1 प्रतिशत रहा।

गणित में राष्ट्रीय औसत 57 प्रतिशत रहा जबकि राजस्थान का 65 प्रतिशत रहा।

भाषायी स्तर पर राष्ट्रीय औसत 62 प्रतिशत रहा जबकि राजस्थान का 69 प्रतिशत रहा।

ईवीएस में राष्ट्रीय औसत 57 प्रतिशत रहा जबकि राजस्थान का 65 प्रतिशत रहा।

पाँचवीं कक्षा के बच्चों का लर्निंग स्तर

ओवरऑल अचीवमेंट स्कोर का राष्ट्रीय औसत 49 प्रतिशत रहा, जबकि राजस्थान का औसत 57.6 प्रतिशत रहा।

गणित में राष्ट्रीय औसत 44 प्रतिशत रहा जबकि राजस्थान का 53 प्रतिशत रहा।

भाषायी स्तर पर राष्ट्रीय औसत 55 प्रतिशत रहा जबकि राजस्थान का 63 प्रतिशत रहा।

ईवीएस में ष्ट्रीय औसत 48 प्रतिशत रहा जबकि राजस्थान का 57 प्रतिशत रहा।


आठवीं कक्षा के बच्चों का लर्निंग स्तर

ओवरऑल अचीवमेंट स्कोर का राष्ट्रीय औसत 41.9 प्रतिशत रहा, जबकि राजस्थान का औसत 50.5 प्रतिशत रहा।

भाषायी स्तर पर राष्ट्रीय औसत 53 प्रतिशत रहा जबकि राजस्थान का 61 प्रतिशत रहा।

गणित में राष्ट्रीय औसत 36 प्रतिशत रहा जबकि राजस्थान का 46 प्रतिशत रहा।

विज्ञान में राष्ट्रीय औसत 39 प्रतिशत रहा जबकि राजस्थान का 47 प्रतिशत रहा।

सामाजिक विज्ञान में राष्ट्रीय औसत 39 प्रतिशत रहा जबकि राजस्थान का 49 प्रतिशत रहा।

दसवीं कक्षा के बच्चों का लर्निंग स्तर

ओवरऑल अचीवमेंट स्कोर का राष्ट्रीय औसत 37.8 प्रतिशत रहा, जबकि राजस्थान का औसत 45.1 प्रतिशत रहा।

गणित में राष्ट्रीय औसत 32 प्रतिशत रहा जबकि राजस्थान का 41 प्रतिशत रहा।

सामाजिक विज्ञान में राष्ट्रीय औसत 37 प्रतिशत रहा जबकि राजस्थान का 46 प्रतिशत रहा।

विज्ञान में राष्ट्रीय औसत 32 प्रतिशत रहा जबकि राजस्थान का 42 प्रतिशत रहा।

अंग्रेजी में राष्ट्रीय औसत 43 प्रतिशत रहा जबकि राजस्थान का 48 प्रतिशत रहा।

● उक्त सर्वे में विभिन्न बच्चों के लर्निंग स्तर जानने के लिए 12 नवम्बर, 2021 को परीक्षा का आयोजन करवाया गया। 

● इसमें राजस्थान के 5,947 सरकारी व निजी स्कूलों के 1,51,423 विद्यार्थियों व 25 हजार शिक्षकों ने भाग लिया।

राजस्थान सरकार ने 44 सेवा नियमों में संशोधन कर साक्षात्कार समाप्त करने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी, केवल आरएएस, अधीनस्थ सेवा भर्ती व चार अन्य सेवाओं में ही इंटरव्यू का प्रावधान होगा


● हाल ही में राजस्थान सरकार ने 44 सेवा नियमों में संशोधन करते हुए साक्षात्कार को पूर्णतः समाप्त करने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी है। 

● अब इनसे जुड़ी भर्तियों में साक्षात्कार नहीं होंगे। 

● केवल राजस्थान राज्य एवं अधीनस्थ सेवाएँ (संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा द्वारा सीधी भर्ती) नियम 1999 में साक्षात्कार के प्रावधान वाले पदों एवं कुछ विशिष्ट सेवा नियमों में साक्षात्कार जारी रहेंगे। 

● इनमें साक्षात्कार का भरांक (वेटेज), कुल अंकों का अधिकतम 10 प्रतिशत ही होगा।

राज्य में ₹130.26 करोड़ की 16 पेयजल परियोजनाओं को मंजूरी

● राज्य के 9 जिलों की ₹130.26 करोड़ की 16 पेयजल परियोजनाओं को संशोधित प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति प्रदान की गई है।

● उक्त 16 पेयजल योजनाओं को स्वीकृति राजस्थान वाटर सप्लाई एवं सीवरेज मैनेजमेंट बोर्ड (आरडब्ल्यूएसएसएमबी) की वित्त समिति की बैठक में 25 मई, 2022 को प्रदान की गई।

स्वीकृत परियोजना वाले जिले

● प्रदेश में जिन परियोजनाओं को संशोधित प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति प्रदान की गई है उनमें जयपुर जिले की 2, करौली की 5, हनुमानगढ़ की 3, सवाई माधोपुर, जोधपुर, अजमेर, उदयपुर, राजसमन्द, बाँसवाड़ा जिलों की एक-एक पेयजल योजना शामिल है।

● उपर्युक्त परियोजनाओं में पाइप लाइन बिछाने, स्वच्छ जलाशयों का निर्माण एवं पम्प हाउस निर्माण जैसे कार्य किए जाएँगे।

राज्य सरकार हैल्थ अकाउंट्स को संस्थागत करेगी

● राजस्थान, हैल्थ अकाउंट्स को संस्थागत करने का प्रयास करने वाला पहला राज्य होगा।

● इस विषय पर विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा शासन सचिवालय स्थित सभागार में एक ऑरियेन्ट्स का आयोजन 25 मई, 2022 को किया गया ।

हैल्थ अकांउट्स को संस्थागत बनाने की आवश्यकता

● राजस्थान, यूनिवर्सल हैल्थ कवरेज का विस्तार करने के लिए नई योजनाओं और मॉडलों को अपनाने में देश में सबसे आगे है। राज्य की स्वास्थ्य क्षेत्र में इन सफलताओं को जारी रखने के लिए ऐसा सिस्टम जरूरी है, जो संसाधन आवंटन और व्यय की मॉनिटरिंग में मदद कर सके। इसके लिए राज्य के भीतर हैल्थ अकांउट्स को संस्थागत रूप दिया जाना आवश्यक है।

क्या है हैल्थ अकाउट्स

हैल्थ अकांउट्स के माध्यम से स्वास्थ्य व्यय की नियमित ट्रेकिंग और निगरानी की जा सकती है । और ये साक्ष्य आधारित नीति निर्माण में महत्वपूर्ण उपकरण के रूप में कार्य कर सकते हैं।

हैल्थ अकांउट्स के माध्यम से फंड फ्लो का विस्तृत अध्ययन कर ग्रास रूट लेवल तक हैल्थ सिस्टम को और मजबूत किया जा सकता है।

आंतरिक सुरक्षा अकादमी और सरदार पटेल पुलिस विश्वविद्यालय के मध्य एमओयू

आंतरिक सुरक्षा अकादमी और सरदार पटेल पुलिस विश्वविद्यालय, जोधपुर के मध्य एक एमओयू (memorandum of understanding) 25 मई, 2022 को किया गया ।

● यह एमओयू आंतरिक सुरक्षा के क्षेत्र में वैश्विक चुनौतियों के संदर्भ में शिक्षा, प्रशिक्षण और शोध को बढ़ावा देने के लिए किया गया है।

एमओयू का महत्व 

● इससे देश में आंतरिक सुरक्षा की दृष्टि से सैद्धांतिक के साथ व्यावहारिक प्रयासों को गति मिलेगी।

सीआरपीएफ आंतरिक सुरक्षा प्रशिक्षण के अंतर्गत पुलिस विश्वविद्यालय द्वारा प्रदत्त शिक्षा और शोध का जमीनी स्तर पर प्रभावी उपयोग कर सकेगा।


मुख्यमंत्री ने दी ई-व्हीकल पॉलिसी को मंजूरी

● राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राजस्थान इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी (Rajasthan Electric Vehicle Policy -REVP) को मंजूरी मई 2022 में दे दी है।

● मुख्यमंत्री द्वारा वर्ष 2019-20 के बजट में इलेक्ट्रिक व्हीकल नीति लाने की घोषणा की गई थी ।

● 'आरईवीपी' को मंजूरी देने के साथ ही ऐसे वाहनों की खरीद को प्रोत्साहन देने के लिए प्रस्तावित एकमुश्त अंशदान और एसजीएसटी पुनर्भरण के लिए ₹40 करोड़ के अतिरिक्त बजट प्रावधान को स्वीकृति दी गई है ।

● इस ‘आरईवीपी’ नीति के लागू होने से प्रदेश में डीजल-पेट्रोल के वाहनों द्वारा होने वाले प्रदूषण में कमी आएगी।

राजस्थान में राज्यसभा के द्विवार्षिक चुनाव

● राजस्थान में राज्यसभा द्विवार्षिक निर्वाचन- 2022 के लिए 24 मई, 2022 को अधिसूचना जारी होने के साथ नामांकन पत्र भरने की प्रक्रिया आरम्भ हो गई।

● इसके लिए 24 - 31 मई, 2022 तक नामांकन पत्र लिए जाएँगे । 

● नामांकन पत्रों की संवीक्षा / जून, 2022 को होगी जबकि 3 जून, 2022 तक अभ्यर्थी नाम वापस ले सकेंगे।

● राजस्थान में राज्यसभा की चार सीटों पर चुनाव 10 जून, 2022 को होगा।

● मुख्य निवार्चन अधिकारी प्रवीण गुप्ता द्वारा दी जानकारी के अनुसार राजस्थान में राज्यसभा के चार सदस्यों का निर्वाचन होना है।

● उल्लेखनीय है कि भारतीय जनता पार्टी के राजस्थान से चारों राज्य सभा सदस्यों ओम माथुर, के. जे अल्फोंस, रामकुमार वर्मा व हर्षवर्धन सिंह का कार्यकाल 4 जुलाई, 2022 को पूरा होने जा रहा है।

● वर्तमान में राजस्थान से राज्यसभा के 10 सांसदों में से 7 भाजपा और 3 कांग्रेस पार्टी से हैं।

● उल्लेखनीय है कि 200 सीटों वाली राजस्थान विधानसभा में इस समय कांग्रेस के 108, भाजपा के 71, निर्दलीय 13, राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के तीन, माकपा व भारतीय ट्राइबल पार्टी (बीटीपी) के दो-दो और राष्ट्रीय लोकदल के एक विधायक हैं।

सरकार का अधिकांश भर्तियों साक्षात्कार समाप्त करने का निर्णय

● राज्य सरकार ने भर्तियों में पारदर्शिता लाने के क्रम में बड़ा कदम उठाते हुए अधिकांश भर्तियों में साक्षात्कार समाप्त करने का निर्णय लिया है।

● इस संदर्भ में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 44 सेवा नियमों में संशोधन करते हुए साक्षात्कार को पूर्णतः समाप्त करने के प्रस्ताव को मई 2022 में स्वीकृति दे दी है।

निर्णय का सारांश

● उक्त सेवा नियमों के अंतर्गत आने वाले पदों के लिए आयोग / बोर्ड / नियुक्ति प्राधिकारी द्वारा की जाने वाली भर्तियों में अब अभ्यर्थियों का साक्षात्कार नहीं लिया जाएगा।

● राजस्थान राज्य एवं अधीनस्थ सेवाएँ (संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा द्वारा सीधी भर्ती) नियम 1999 में साक्षात्कार के प्रावधान वाले पदों एवं कुछ विशिष्ट सेवा नियमों में साक्षात्कार जारी रखा जाएगा।

● इनमें भी साक्षात्कार का भारांक (वेटेज) कुल अंकों का अधिकतम 10 प्रतिशत ही होगा।

● ऐसे 4 सेवा नियमों में भी साक्षात्कार जारी रखने का निर्णय लिया गया है, जिनमें कार्य प्रकृति के कारण संवाद कौशल की आवश्यकता होती है। इन सेवाओं के लिए होने वाली भर्तियों में साक्षात्कार होगा।


Rajasthan current affairs of 27 May, 2022

मुरलीधर वैष्णव गोइन्का अवार्ड से सम्मानित 

● हाल ही में मई, 2022 में रचनाधर्मी मुरलीधर वैष्णव इस वर्ष के श्यामसुन्दर गोइन्का त्रिवेणी समागम पुरस्कार से सम्मानित हुए हैं। 

यह पुरस्कार उन्हें बेंगलुरु में मिला जिसमें 2.21 लाख रुपये की राशि दी गई।

मुरलीधर वैष्णव को राजस्थान साहित्य अकादमी का विशिष्ट साहित्य पुरस्कार, राजस्थान पत्रिका का सर्जन साहित्य पुरस्कार व दुर्गादास राठौड़ पुरस्कार भी मिल चुके हैं।

राजस्थान में 1 वर्ष तक के बच्चों की शिशु मृत्यु दर में 3 अंक की कमी, राष्ट्रीय स्तर पर 2 अंक की कमी

● भारत के नवीन एसआरएस बुलेटिन - 2022 के अनुसार राजस्थान में 1 वर्ष के बच्चों की शिशु मृत्यु दर में 3 अंक की कमी आई है।

● राजस्थान में प्रति हजार जीवित जन्म लेने वाले शिशुओं की मृत्यु दर 35 थी जो अब घटकर 32 हो गई है। 

राष्ट्रीय स्तर पर इसमें 2 अंक की कमी आई है।

पोकरण में अमेरिकन होवित्जर गन एम-777 का सफल परीक्षण हुआ

● हाल ही में राजस्थान के जैसलमेर जिले के पोकरण में फील्ड फायरिंग रेंज में अमेरिकन होवित्जर गन एम-777 का सफल परीक्षण हुआ। इसकी मारक क्षमता 30 किमी. से अधिक है और यह बोफोर्स तोप से वजन में हल्की है।

Rajasthan current affairs of 29 May, 2022


राज्य में ग्रामीण ओलम्पिक का आयोजन अगस्त- अक्टूबर 2022 में

● प्रदेश में व्यापक स्तर पर खेलों का वातावरण तैयार करने के लिए 'राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक' का आयोजन 29 अगस्त-2 अक्टूबर, 2022 को किया जाएगा।

● इसके लिए ग्रामीण ओलम्पिक खेलों की मशाल मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 29 मई, 2022 को जयपुर से रवाना की । 

● यह मशाल तीन महीने में हर जिले और ब्लॉक में जाकर खेलों की अलख जगाएगी।

● इस मशाल को मुख्यमंत्री ने विश्व चैम्पियन तीरंदाज रजत चौहान और एशियन गेम्स मेडलिस्ट मंजू बाला को सौंपा। 

● देश में पहली बार ग्रामीण ओलम्पिक का यह महत्वाकांक्षी आयोजन किया जा रहा है, जिसमें प्रदेशभर के लगभग 27 लाख खिलाड़ी भाग लेंगे। 

● इस ग्रामीण ओलम्पिक में प्रदेश की 11,341 ग्राम पंचायत, 352 ब्लॉक, 33 जिले एवं राज्य स्तर पर कबड्डी, शूटिंग, वॉलीबॉल, टेनिस बॉल, क्रिकेट, खो-खो, वॉलीबॉल व हॉकीं खेलों की प्रतियोगिताएँ आयोजित की जाएँगी


"राजीव गांधी खेलरत्न अवॉर्ड"


● मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य सरकार द्वारा राजस्थान के खिलाड़ियों के लिए ‘राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार' दिए जाने की घोषणा 29 मई, 2022 को की । 

● राजीव गांधी खेलरत्न राजस्थान के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी को मिलेगा । 

● इसमें प्रशस्ति-पत्र, शील्ड व ₹ 7.50 लाख की इनामी राशि होगी । 


प्रताप- वशिष्ठ अवॉर्ड की पुरस्कार राशि में वृद्धि

● राज्य खेल परिषद् की अध्यक्ष कृष्णा पूनिया ने गुरु वशिष्ठ अवॉर्ड व महाराणा प्रताप अवॉर्ड की राशि ₹ 1 लाख से ₹5 लाख करने की माँग की थी, जिसे मुख्यमंत्री ने स्वीकार किया है।


हाई परफॉरमेन्स स्पोट्र्स ट्रेनिंग एवं रिहेबिलीटेशन सेन्टर

● इस अवसर पर मुख्यमंत्री गहलोत ने हाई परफोर्मेंस ट्रेनिंग सेंटर, बैडमिंटन हॉल तथा रिनोवेशन सिंथेटिक हॉकी एस्ट्रोटर्फ का उद्घाटन और अनुदान ऑनलाइन पोर्टल का शुभारम्भ किया । 


"फिट राजस्थान, हिट राजस्थान"

● प्रदेश में निरोगी राजस्थान जागरूकता अभियान से समन्वय करते हुए राज्य के युवाओं को गम्भीर बीमारियों से बचाव एवं स्वस्थ जीवन शैली अपनाने हेतु एक विशेष जागरूकता अभियान 'फिट राजस्थान, हिट राजस्थान' चलाया जाएगा।


10 गीगावॉट सौर क्षमता को पार करने वाला राजस्थान पहला राज्य


● मेरकॉम के इंडिया सोलर प्रोजेक्ट ट्रैकर (India Solar Project Tracker) के अनुसार, राजस्थान देश का पहला राज्य बन गया है, जिसने बड़े पैमाने पर 10 गीगावाट (GW) के संचयी सौर प्रतिष्ठानों (Cumulative Large-Scale Solar Installations) को पार किया है ।

राजस्थान में कुल स्थापित विद्युत क्षमता 32.5 GW है, जिसमें नवीकरणीय ऊर्जा (अक्षय ऊर्जा) का योगदान 55% है, जबकि तापीय ऊर्जा का 43% तथा शेष 2% परमाणु ऊर्जा का योगदान है। 

● राजस्थान में सौर प्रमुख ऊर्जा स्त्रोत है, जो बिजली क्षमता मिश्रण का लगभग 36% और नवीकरणीय ऊर्जा का 64% हिस्सा है।

● मेरकॉम के इंडिया सोलर प्रोजेक्ट ट्रैकर के अनुसार, वर्तमान में राजस्थान में 16 गीगावॉट से अधिक सौर परियोजनाएँ निर्माणाधीन हैं।

● दिसम्बर 2021 तक भारत की संचयी सौर स्थापित क्षमता 55 गीगावॉट है। 

राजस्थान सौर ऊर्जा नीति 2019

● वर्ष 2019 में राजस्थान ने अपनी सौर ऊर्जा नीति 2019 जारी की। 

● जिसमें वित्त वर्ष 2024-25 तक 30 गीगावॉट सौर ऊर्जा का लक्ष्य हासिल करना है।

● इसमें यूटिलिटी या ग्रिड स्केल सोलर पार्क की 24 गीगावॉट की बड़ी हिस्सेदारी होगी। 

● शेष 4 गीगावॉट डिस्ट्रीब्यूटेड जेनरेशन से तथा 1 गीगावाट रूफटॉप सोलर और सोलर पंप से हासिल होगी।

मेरकॉम इंडिया: एक नजर में

मेरकॉम इंडिया अमेरिका स्थित मेरकॉम कैपिटल ग्रुप की सहायक कम्पनी है।

यह एक स्वच्छ ऊर्जा अनुसंधान और संचार फर्म है जो भारतीय क्लीनटेक बाज़ारों में विशेषज्ञता प्रदान करती है।


Rajasthan current affairs of 30 May, 2022


नगरीय निकाय में रिक्त पदों के लिए उपचुनाव

राज्य निर्वाचन आयोग ने राज्य के नगरीय निकायों में 31 जनवरी, 2022 तक विभिन्न कारणों से रिक्त हुए 10 जिलों की 4 नगरपरिषदों एवं 10 नगरपालिकाओं के 17 सदस्यों के रिक्त पदों पर उपचुनाव करवाए गए।

● उपचुनाव के लिए लोक सूचना 13 मई, 2022 को जारी की गई तथा मतदान 29 मई, 2022 को सम्पन्न हुआ। इन उपचुनावों के लिए मतगणना 30 मई, 2022 को सम्पन्न हुई।

पंचायती राज संस्थाओं के उपचुनाव- राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जिला परिषद एवं पंचायत समिति सदस्यों के उपचुनाव के लिए मतदान 10 मई, 2022 को, उपप्रधान का चुनाव 12 मई, 2022 को करवाया गया। 

● इसी प्रकार सरपंच एवं पंच के लिए मतदान 7 मई, 2022 को तथा उप सरपंच का चुनाव 8 मई, 2022 को सम्पन्न करवाए गए।

सुभाष ओला को अमेजन संभव आंत्रप्रेन्योरशिप चैलेंज 2022

● राजस्थान के अन्वेषक सुभाष ओला ने अमेज़न संभव आंत्रप्रेन्योरशिप चैलेंज 2022 में प्रथम पुस्कार जीता है। 

● उनकी कम्पनी 'जीनियस एनर्जी क्रिटिकल इनोवेशन प्राइवेट लिमिटेड' को स्टार्ट-अप ऑफ द ईयर अवॉर्ड से सम्मानित किया गया है।

● इन्होंने भाप को पुनर्चक्रित करके बॉयलरों में ऊर्जा बचाने की तकनीक विकसित की है।

● इस टेक्नोलॉजी को पहले खोया और दूसरे दुग्ध उत्पाद तैयार करने के लिए विकसित किया गया था और बाद में कपड़ा, दूध, और भोजन, फार्मा, प्लाईवुड, पेपर मिल, चमड़ा उद्योग, रसायन, उद्योग, गर्म पानी बॉयलर जनरेटर, प्लास्टिक रीसायकल, कपड़े धोने और अस्पतालों आदि में काम में लिया जाने लगा।

● उल्लेखनीय है कि सुभाष ओला को वर्ष 2015 में एनआईएफ के 8वें द्विवार्षिक राष्ट्रीय ग्रासरूट इनोवेशन एंड आउटस्टैंडिंग ट्रेडिशनल नॉलेज अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया था।


अन्य महत्वपूर्ण राजस्थान करंट अफेयर्स मई 2022 संक्षिप्त रूप में


इन्वेस्ट राजस्थान - 2022

● प्रदेश में निवेश को प्रोत्साहित करने के लिए जयपुर के सीतापुर स्थित 'जयपुर एग्जीविशन एण्ड कन्वेंशन सेंटर' में 'इन्वेस्ट राजस्थान -2022' का आयोजन 7-8 अक्टूबर, 2022 को किया जाएगा। 

● इस ‘इन्वेस्टरा जस्थान-2022' में भौतिक रूप से 3000 से अधिक और वर्चुअल रूप से 5000 से अधिक निवेशक शामिल होंगे।

लव-कुश वाटिकाएँ

● मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य में इको-टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए प्रत्येक जिले में 'लव-कुश वाटिका' विकसित करने के निर्देश 24 मई, 2022 को दिए।

● इन ‘लव-कुश वाटिकाओं में वन एवं वन्यजीवों से संबंधित ऐसे मॉडल स्थापित किए जाएँगे जिनसे बच्चों को पर्यावरण व वन्यजीव संरक्षण की शिक्षा मिल सके।

राजीविका उत्पादों के प्रमाणीकरण हेतु एमओयू

राजीविका के महिला स्वयं सहायता समूहों द्वारा उत्पादित जैविक उत्पादों का प्रमाणीकरण 'राज्य बीज एवं जैविक प्रमाणीकरण संस्था' द्वारा किया जाएगा।

● इस सम्बन्ध में राजीविका एवं राजस्थान राज्य बीज एवं जैविक प्रमाणीकरण संस्था के मध्य एक एमओयू पर 24 मई, 2022 को हस्ताक्षर किए गए।

राजस्थान बीज एवं प्रमाणीकरण संस्था स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को जैविक खेती व प्रमाणीकरण में तीन वर्ष तक सहयोग प्रदान करेगी।

कोटा में डिजिटल प्लेनेटेरियम

● मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोटा विज्ञान केन्द्र में डिजिटल प्लेनेटेरियम की स्थापना के लिए ₹7.40 करोड़ के वित्तीय प्रस्ताव को 10 मई, 2022 को मंजूरी दी है।

● वर्ष 2022-23 के बजट भाषण में मुख्यमंत्री द्वारा बीकानेर, भरतपुर एवं कोटा में ₹75 करोड़ की लागत से युवाओं में वैज्ञानिक सोच विकसित करने के लिए विज्ञान केन्द्र स्थापित करने की घोषणा की गई थी ।

छह शहरी न्यास भूमि पर 2400 मिलियन टन खनिज भण्डार

खान एवं भू-विज्ञान विभाग द्वारा जयपुर व जोधपुर सहित छह शहरों के प्राधिकरण व नगर विकास न्यास की भूमि में 4,615 हेक्टेयर क्षेत्र में 2400 मिलियन टन से अधिक खनिज भण्डारों का चिन्हीकरण और आकलन किया गया है।

● इन भण्डारों के वैध खनन से राज्य सरकार को लगभग ₹6,800 करोड़ के राजस्व प्राप्ति की सम्भावना है ।

● विभाग द्वारा किए गए खोज कार्य के अनुसार जयपुर, जोधपुर, जैसलमेर, अजमेर, बीकानेर और भीलवाड़ा के शहरी क्षेत्र में चेजा पत्थर, सेण्ड स्टोन, पीला चूना पत्थर, ग्रेनाइट, बाल क्ले, सिलिका सेण्ड, बजरी, ग्रेवल, लौह अयस्क के भण्डार उपलब्ध हैं। 

राजस्थान डोमेस्टिक ट्रेवल मार्ट

● राजस्थान में पर्यटन क्षेत्र के विकास कार्यक्रमों के क्रम में ‘राजस्थान डोमेस्टिक ट्रेवल मार्ट' का आयोजन 22-24 जुलाई, 2022 को जयपुर में किया जाएगा।

● पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश में 10 प्रमुख नए फेस्टिवलों को शामिल किया जा रहा है ।

● इनमें इंटरनेशनल फोक फेस्टिवल, इंटरनेशनल हॉट  फेस्टिवल पुष्कर- आमेर, राजस्थान इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल जयपुर, सांभर फेस्टिवल, फेस्टिवल एट बूँदी स्टेप वैल्स, इंटरनेशनल काईट फेस्टिवल, कोटा रिवर क्रूज फेस्टिवल, जहान-ए-खुसरो, इंटरनेशनल फोटोग्राफी फेस्टिवल, फेस्टिवल्स फॉर डेस्टिनेशन डवलपमेंट (शेखावटी) एवं भरतपुर प्रमुख हैं। इन्हें पर्यटन कैलेंडर में शामिल किया जाएगा।

ईडब्ल्यूएस को इनकम एण्ड एसेट सर्टिफिकेट में छूट

● राज्य सरकार द्वारा एक महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए आर्थिक कमजोर वर्ग (Economically Weaker Section) के नागरिकों को प्रति वर्ष इनकम एण्ड एसेट सर्टिफिकेट बनवाने की अनिवार्यता से छूट दी गई है।

● इस सम्बन्ध में राज्य सरकार ने एक परिपत्र जारी किया है, जिसके अनुसार एक बार इनकम एण्ड एसेट सर्टिफिकेट जारी होने के बाद आगामी वर्ष में निर्धारित मापदण्डों को पूरा करने पर केवल सत्यापित शपथ पत्र देना होगा। यह सुविधा अधिकतम 3 वर्ष के लिए दी गई है।

मियां का बाड़ा

● राजस्थान के बाड़मेर जिले के बालोतरा इलाके में स्थित 'मियां का बाड़ा' रेलवे स्टेशन का नाम बदल दिया गया है। इस रेलवे स्टेशन का नया नाम अब 'महेश नगर हॉल्ट' कर दिया गया है।

यह गाँव पाकिस्तान के सीमावर्ती बाड़मेर जिले की समदड़ी तहसील में आता है।

● इससे पहले वर्ष 2018 में इस गाँव का नाम बदलकर मियां का बाड़ा से महेश नगर किया गया था, लेकिन रेलवे स्टेशन का नाम नहीं बदला जा सका था।

उल्लेखनीय है कि वसुंधरा राजे सरकार के दौरान वर्ष 2018 में मियां का बाड़ा गाँव का नाम बदलकर महेश नगर, इस्माइल खुर्द का नाम बदलकर पिचनवा खुर्द और नरपाड़ा को नरपुरा किया गया था।

राज ऑलिव स्टोर

राजस्थान के कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने जयपुर के दुर्गापुरा अनुसंधान केन्द्र परिसर में 'राज ऑलिव स्टोर' का उद्घाटन 23 मई, 2022 को किया गया ।

● यह स्टोर जैविक सब्जियाँ और विभिन्न ओलिव उत्पाद की आम जनता के लिए उपलब्धता सुनिश्चित करने हेतु खोला गया है।

● इसके अतिरिक्त स्टोर में शुद्ध पानी और जैविक सब्जियों के साथ जैतून से बने उच्च ग्रेड शहद, तेल और सिरका भी उचित मूल्य पर उपलब्ध हैं।

● इस स्टोर में सब्जियों की आपूर्ति कृषि विभाग के बस्सी स्थित कृषि उत्कृष्टता केन्द्र से की जाती है।

आर्किटेक्चर फेस्टिवल

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ आर्किटेक्ट्स के राजस्थान चेप्टर की ओर से 'राजस्थान आर्किटेक्चर फेस्टिवल' का आयोजन जयपुर के जवाहर लाल नेहरू मार्ग स्थित होटल क्लार्क्स आमेर में किया गया।

● इस फेस्टिवल का उद्घाटन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा 20 मई, 2022 को किया गया।

● जयपुर का आर्किटेक्चर के संदर्भ में विशेष महत्व है। यहाँ के जवाहर कला केन्द्र भवन का डिजाइन कार्य चार्ल्स कोरिया द्वारा किया गया था ।

जयपुर परकोटे को यूनेस्को की विश्व धरोहर सूची में शामिल में शामिल किया गया है।

सेवांजलि

● मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को मिले स्मृति चिन्ह एवं उपहारों की नीलामी का कार्यक्रम 'सेवांजलि' मुख्यमंत्री निवास पर 5 मई, 2022 को आयोजित किया गया ।

भारत सेवा संस्थान की ओर से आयोजित इस कार्यक्रम में लगभग ₹ 2 करोड़ की राशि एकत्रित हुई । यह राशि 'निरोगी राजस्थान' के लिए 'मुख्यमंत्री सहायता कोष' में जमा की जाएगी।

राज्य तितली

● प्रदेश के वन एवं पर्यावरण विभाग द्वारा पर्यावरण एवं जैव विविधता के संरक्षण में तितलियों के योगदान को देखते हुऐ राज्य में पाई जाने वाली तितलियों की प्रजाति में से एक प्रजाति को 'राज्य तितली' घोषित करने की चयन हेतु नामांकन प्रक्रिया शुरू कर दी गई ।

● राजस्थान भारत में आठवाँ राज्य होगा जो राज्य तितली घोषित करेगा।

● राज्य में तितली की लगभग 100 प्रजातियाँ पाई जाती हैं। तितलियाँ स्वस्थ इको-सिस्टम का महत्वपूर्ण घटक हैं एवं जैव विविधता हेतु परांगण के माध्यम से अहम योगदान करती हैं।

मामे खान

● मामे खान राजस्थान के जाने माने लोक कलाकार हैं, जिन्होंने ‘कांस फिल्म फेस्टिवल 2022' में शामिल होकर इतिहास रच दिया है।

● वह 'कांस फिल्म फेस्टिवल' में इंडिया को रेड कार्पेट पर रिप्रजेन्ट करने वाले पहले भारतीय लोक कलाकार बन गए हैं। 

राजस्थानी सिंगर मामे खान ने इस इवेंट के रेड कार्पेट पर भारत के लिए ऑपनिंग की।

मामे खान कई बॉलीवुड फिल्मों जैसे 'लक बाय चांस', 'नो वन किल्ड जेसिका’ और ‘सोनचिरैया' में प्ले बैक सिंगिंग कर चुके हैं।

अन्य महत्वपूर्ण Current affairs मई 2022

जिला उद्योग एवं वाणिज्य केन्द्र जयपुर (शहर) घेवर को जीआई टैग दिलवाने के लिए प्रयास कर रहा है। 

● राज्य सरकार ने अप्रैल 2022 में खनिज तेल और प्राकृतिक गैस क्षेत्र से ₹550.91 करोड़ का राजस्व अर्जित किया है।  (Note - यह अप्रैल 2021 की तुलना में डेढ़ गुणा से भी अधिक है।) अप्रैल 2022 में ₹509.16 करोड़ का राजस्व खनिज तेल क्षेत्र से प्राप्त हुआ है वहीं ₹ 41.73 करोड़ का राजस्व प्राकृतिक गैस क्षेत्र से प्राप्त हुआ है।

● 5 मई, 2022 को प्रदत्त जानकारी के अनुसार ड्रोन सर्वे की सहायता से राजस्व गाँवों में आबादी क्षेत्र के डिजिटल पट्टे जारी करने सम्बन्धी 'स्वामित्व योजना' में चार और जिलों टोंक, बूंदी, अजमेर और पाली को शामिल कर लिया गया है। योजना के अंतर्गत जयपुर, दौसा, जैसलमेर एवं जोधपुर में पहले से ड्रोन सर्वे का कार्य जारी है।

● मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के जन्म दिन के उपलक्ष्य में तीन दिवसीय 'जननायक खेल उत्सव' एसएमएस स्टेडियम में आयोजित किया गया, जिसका उद्घाटन खेल राज्य मंत्री अशोक चांदना द्वारा 3 मई, 2022 को किया गया ।

विश्व भर में मिट्टी की बढ़ती दुर्दशा के बारे में जागरूकता के लिए ईशा फाउंडेशन के संस्थापक, सद्गुरु द्वारा 'सेव सॉयल' वैश्विक अभियान की पहल की गई है। इस अभियान के पोस्टर का लोकार्पण राज्यपाल कलराज मिश्र द्वारा 19 मई, 2022 को किया गया ।

● मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की बजट घोषणा 2022-23 की क्रियान्विति में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जोधपुर जिले के लोहावट, दौसा के लालसोट, राजसमंद की भीम एवं सीकर के खण्डेला में 50-50 बैड के मदर एण्ड चाइल्ड केयर सेन्टर खोले जाने की स्वीकृति मई 2022 में जारी की गई है।

● मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लालसोट (दौसा) तथा नाथद्वारा (राजसमंद) में नर्सिंग कॉलेज खोले जाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ने वर्ष 2022-23 के बजट भाषण में राज्य के 18 जिले जहाँ नर्सिंग कॉलेज नहीं है, वहाँ नए नर्सिंग कॉलेज खोले जाने की घोषणा की थी।

● प्रदेश में भिवाड़ी, बाड़मेर, भरतपुर, जालौर तथा झुंझुनूं में एसओजी की 5 नई फील्ड यूनिट्स का गठन किया जाना है । इसके प्रथम चरण में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भिवाड़ी, बाड़मेर एवं भरतपुर में स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) की 3 नई फील्ड यूनिट्स खोले जाने के प्रस्ताव को मई 2022 में मंजूरी दे दी है।

राज्य मंत्रिमंडल द्वारा राजस्थान शैक्षिक (राज्य एवं अधीनस्थ ) सेवा नियम, 2021 में संशोधन करते हुए अब शारीरिक शिक्षा अध्यापक पद के लिए योग्यता निर्धारण में सी. पी. एड के साथ डिप्लोमा इन फिजिकल एजुकेशन (डी.पी.एड) एवं बैचलर ऑफ फिजिकल एजुकेशन (बी.पी.एड) को रखे जाने पर निर्णय 18 मई, 2022 को किया है।

● राजस्थान के प्रत्येक जिले को निर्यात संवर्धन में आत्म-निर्भर बनाने के लिए ‘डिस्ट्रिक्ट एक्सपोर्ट हब' विकसित किए जाएँगे, इसके लिए जयपुर और जोधपुर जिले को प्रथम चरण में चुना गया है। 

माहवारी प्रबंधन के बारे में बालिकाओं को जागरूक करने के लिए जयपुर जिले में ‘चुप्पी तोड़ो- सयानी बनो' अभियान के द्वितीय चरण की शुरुआत 16 मई, 2022 को की गई 

● प्रदेश के राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (आईटीआई) में प्रशिक्षणार्थियों को उच्च गुणवत्ता वाली अध्ययन सामग्री उपलब्ध करवाने के लिए 'स्मार्ट' क्लास रूम स्थापित किए जाने का निर्णय लिया गया है। संस्थानों की प्रभावी मॉनिटरिंग के लिए 'कौशल दर्पण' एप बनाया जाएगा।


Topic Cover In This Post :-

1. Rajasthan Current Affairs In Hindi PDF

2. Rajasthan Current Affairs 2022 In Hindi PDF

3. Rajasthan Current Affairs May 2022 In Hindi PDF

4. Rajasthan ka current gk

5. Rajasthan ka May 2022 ka current gk

6. Reet ke liye current gk

7. RPSC Grade -II ke liye current gk

8. RPSC first grade ke liye current gk

9. Current gk For Reet

10. Current Gk for RPSC Grade -II

11. Current GK for RPSC first grade

12. Current Gk For Rajasthan EXAM





DOWNLOAD

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ